COPYRIGHT © RAJIV MANI, Journalist, Patna

COPYRIGHT © RAJIV MANI, Journalist, Patna
COPYRIGHT © RAJIV MANI, Journalist, Patna

बुधवार, 11 नवंबर 2015

पर्व पर कुछ खास दिखना तो बनता है

Shalini Yogendra Gupta
फीचर@ई-मेल
महापर्व छठ पर खास
महिला जगत
ऐसा क्यों होता है कि आप मेकअप तो अच्छा करती है, लेकिन फिर भी अच्छा सा फिल नहीं करतीं। साथ ही, कोई आपकी तारीफ भी नहीं करता। आपके चेहरे की रौनक खोती है सो अलग। वह इसलिए कि आप समय के अनुरूप मेकअप नहीं करतीं। यदि आप इस महापर्व छठ पर दिन और रात के हिसाब से अलग-अलग मेकअप करेंगी, तो जरूर आप भी ब्यूटीफुल दिख सकेंगी। आईए जानते है सीडब्लूसी ब्यूटी एण्ड मेकअप स्टूडियो की सेलिब्रिटी ब्यूटी एन मेकअप एक्सपर्ट शालिनी योगेन्द्र गुप्ता से, कैसे करें मेकअप : 
डे टाइम मेकअप 
यदि आप दिन में किसी पार्टी मे जा रही हैं, तो आपका मेकअप सॉफ्ट और नेचुरल होना चाहिए। दिन के समय चेहरे पर रोशनी पड़ने से सारे कलर्स साफ नजर आते हैं। इसलिए सोबर लुक अपनाएं। साथ ही, अपने सारे फीचर्स हाइलाइट करने पर जोर दें।
मेकअप प्रोडक्टस
मॉश्चराइजर, क्लीजिंग, टोनर, कॉम्पेक्ट पाउडर, टिंटेड मॉश्चराइजर, पाउडर आईशैडो में पीच, पिंक, लाइट ब्राउन, जैसे शेड्स, काजल, ब्लशर आईशैडो से मैच करता हुआ, पिंक, रेड ग्लास, ब्रश किट।
इस तरह करें
सबसे पहले चेहरे की क्लीजिंग, टोनिंग और मॉइश्चराइजिंग करें। इसके बाद जब आप आंखो के नीचे कंसीलर लगाएंगी, तो उसे बाकी स्किन के साथ अच्छी तरह फैला दें। टिंटेड मॉइश्चराइजर को चेहरे और गर्दन पर लगा लें, इसके बाद काम्पैक्ट लगाए। फिर आप आंखों का मेकअप करें, आईशैडो लगाएं। यह ध्यान दें कि आईशैडो लगाते समय अंगुली से आंख का बाहरी कोना पकड़ लें, फिर आईशेडो लगाएं। गालों के ऊपरी हिस्से पर सर्कुलर मोशन से ब्लशर लगाएं। लास्ट में होठो पर ग्लॉस लगाएं।
ईवनिंग टाईम मेकअप 
रात का मेकअप डार्क और ग्लैमर लुक देने वाला होना चाहिए। इसमें आप कलर्स यूज करने मेे हिचकिचाएं नहीं। खूब कलर्स का यूज कर सकती हैं। इस दौरान अपने फेस का एक ही फीचर एक समय में उभारें।
मेकअप प्रॉडक्टस
कॉम्पैक्ट पाउडर, क्लींजर, टोनर, कंसीलर, फाउंडेशन, शिमर, आईलैड कर्लर, मस्कारा, चीक हाइलाइटर गोल्ड, सिल्वर, ब्रोज जैसे शेड्स  में, पाउडर व क्रीम बेस्ड आई शेडो, जिसमें ब्लैक, मॉस ग्रीन, डीप ब्लू, ग्रे जैसे शेड्स  में, काजल ब्लैक, फॉरेस्ट ग्रीन, ब्लू शेड्स में, ब्लश ब्राउन, मैरून, डीप रेड, लिप पेंसिल व लिपस्टिक रेड, डीप पीच, ओरेंज, ब्रश किट।
इस तरह करें
चेहरे को हल्के से क्लींज, टोनिंग व मॉइश्चराइजर करें। एक्ने, डार्क स्पॉटस और आंखों के नीचे हल्का कंसीलर लगाएं और बाकी स्किन से मिला लें। इसके बाद अपनी स्किन से मेल खाता फाउंडेशन और हल्का शिमर लगाएं। इसे अच्छी तरह चेहरे व गर्दन पर फैला लें। अब हल्का कॉम्पैक्ट पाउडर लगाएं। अंगुली से आंख का बाहरी कोना पकड़े और क्रीम बेस्ड आई शेडो लगाएं। बीच से शुरू करके बाहर की ओर जाएं और फिर इनर कॉर्नर पर लगाएं। अब इस पर उसी शेड का पाउडर बेस्ड आई शेडो लगाएं। अब आई लाइनर लगाएं और स्मजर ब्रश से सारे शेड्स मिला लें। आंखों के अंदर की ओर हल्का काजल लगाएं। कलर्स से आईलैश कलर करें और मस्कारा लगाएं। कोशिश करें कि हर लैश अलग नजर आए। गालों के ऊपरी हिस्से पर सर्कुलर मोशन से ब्लशर लगाएं। अब हल्का हाइलाइटर लगाएं और सभी को मिला लें। अंत मे होंठो पर लिप पेंसिल से आउटलाइन बनाएं और उसी शेड की लिपस्टिक लगाएं। चाहें तो ऊपर हल्का लिप ग्लॉस लगा लें।
शालिनी योगेन्द गुप्ता 
सीडब्लूसी ब्यूटी एण्ड मेकअप स्टूडियो, कानपुर

सोमवार, 9 नवंबर 2015

HAPPY DIWALI


10 साल के शासन के बाद भी नीतीश बने रहे लोकप्रिय

बिहार विधानसभा चुनाव में जिस तरह से नीतीश कुमार दस साल के शासन के बाद भी लोगों के बीच कभी अलोकप्रिय नहीं हुए, उसकी चर्चा हर तरफ हो रही है। जिस तरह से महागठबंधन ने बिहार में भारी जीत दर्ज की है उसने सभी दलों के समीकरण को बिगाड़ कर रख दिया है। नीतीश शासन के प्रति लोगों का संतोषजनक जवाब ही नीतीश के सुशासन की पुष्टि करता है। 
बतौर मुख्यमंत्री पद के दावेदार मैदान में उतरे : हालांकि इन सब के बीच अभी भी एक बात जो लोगों के बीच खटक रही है कि क्या नीतीश का लालू प्रसाद के साथ गठबंधन करने का फैसला सही था। लेकिन जिस तरह से नीतीश कुमार का बतौर मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के साथ चुनाव मैदान में जाने का फैसला लिया उसने सभी विरोधियों के समीकरणों को बिगाड़ दिया। 
वोटों के बिखराव को रोकने में हुए सफल : महागठबंधन की जीत का सबसे अहम कारण रहा ठीक तरह से सीटों के बंटवारे का होना साथ ही वोटों के बिखराव को रोकने की रणनीति भी काफी कारगर साबित हुई। जाने माने सैफॉलजिस्ट संदीप शास्त्री ने बताया कि जिस तरह से नीतीश ने बिहार को चलाया है उससे जमीनी स्तर पर लोग काफी खुश हैं। जिस तरह से नीतीश ने लोगों को यह भरोसा दिलाया कि बिहार को लालू नहीं बल्कि वो ही चलायेंगे उसने लोगों में उनके लिए भरोसे को मजबूत किया। 
सुशासन को बनाया मुद्दा : नीतीश ने बिहार में काफी लोकप्रियता प्राप्त की, इसके पीछे की अहम वजह रहा बिहार में उनका सुशासन। जिस तरह से उन्होंने बिहार को आगे ले जाने की नीतियों पर काम किया उसका उनको जमीनी स्तर पर लाभ प्राप्त हुआ। इन्ही योजनाओं के चलते नीतीश को बिहार की महिलाओं ने भी जमकर समर्थन दिया। 
विकास मॉडल : नीतीश कुमार के लिए जिस चीज ने सबसे ज्यादा काम किया वह है उनका विकास मॉडल। नीतीश ने अपने शासन काल में बिहार में जो विकास कार्य किये उसे लोगों ने जमकर सराहा और लोग उसे नीतीश शासन में एक बार फिर से आगे बढ़ता देखना चाहते थे।
साभार: वन इंडिया